भारत हजारों साल पहले विश्वगुरु था पर वामपंथियों ने असली इतिहास छुपा दिया

🚩जब हम भारत के इतिहास की बात करते हैं तो बात कुछ अंग्रेजों के समय पर आकर रुक जाती है । कुछ लोग थोडा ज्यादा जानने का प्रयास करते हैं तो उनको भारत के मुस्लिम शासन तक की ही जानकारी मिल पाती है । भारत में मुस्लिम शासन और अंग्रेजी शासन ही भारत का इतिहास नहीं है ! असल में भारत के सच्चे इतिहास को हमारी पुस्तकों से हटा दिया गया है । किताबों में जो लिखा गया है वह केवल और केवल मुस्लिम लुटेरों और अंग्रेजी लुटेरों तक ही सीमित है !
🚩तो आज हम आपको भारत का इतिहास बताने वाले हैं, जो आपने पढा ही नहीं होगा परंतु इसको पढना आपके लिए बेहद आवश्यक है . . .
India was a world master of thousands of
years but the Left hid the real history
*भारत का इतिहास – भारत व्यापार में सबका बाप था !*
🚩1840 तक का भारत जो था उसका विश्व व्यापार में हिस्सा 33% था । अंग्रेजों से पहले जब मुस्लिम आये थे तो भी भारत मसालों का विश्व में सबसे बडा निर्यातक था । दुनिया के कुल उत्पादन का 43% भारत में उत्पन्न होता था और दुनिया के कुल कमाई में भारत का हिस्सा 27% था । यह बात अंग्रेजों को काफी बुरी लगी थी और भारत को बर्बाद करने के लिए कई तरह के टैक्स भारत पर लगाए गये थे !
🚩तो अंग्रेजों ने सबसे पहला कानून बनाया Central Excise Duty Act और टैक्स तय किया गया 350 प्रतिशत यानी 100 रूपये का उत्पादन होगा तो 350 रुपया Excise Duty देना होगा ! फिर अंग्रेजों ने सामान के बेचने पर Sale Tax लगाया और वो तय किया गया 120 प्रतिशत यानी 100 रुपया का माल बेचो, तो 120 रुपया CST दो ! फिर एक और टैक्स आया Income Tax और वो था 97 प्रतिशत यानी 100 रुपया कमाया तो 97 रुपया अंग्रेजों को दो !
*भारत का इतिहास – भारत पर मुस्लिम आक्रमण*
🚩बाप्पा रावल के आक्रमणों से मुसलमान इतने भयक्रांत हुए की अगले 300 सालों तक वे भारत से दूर रहे । परंतु भारत माता की सच्चा इतिहास हमको पढाया ही नहीं जाता है । मुस्लिम लुटेरों को कई हिन्दू योद्धाओं ने कई सालों तक लगातार हराया था । महमूद गजनवी ने 1002 से 1017 तक भारत पर कई आक्रमण किये पर हर बार उसे भारत के हिन्दू राजाओ से कडा उत्तर मिला था । महमूद गजनवी ने सोमनाथ पर भी कई आक्रमण किये और इसको 17 वे युद्ध में सफलता मिली थी!
🚩भारतीय राजाओ के निरंतर आक्रमण से वह वापिस गजनी लौट गया और अगले 100 सालो तक कोई भी मुस्लिम आक्रमणकारी भारत पर आक्रमण नहीं कर पाया था !
*भारत का इतिहास – भारत माता इसलिए थीं सोने की चिडिया*
🚩भारत माता को सोने की चिडिया इसलिए बोलते थे क्योकि भारत का हर घर तब खुद का व्यापार करता था । हमारे यहां पर नौकरियां नहीं होती थीं और सभी मालिक होते थे । जो भी लोग भारत में व्यापार करने आते थे, वह यहाँ सोना लेकर आते थे । तो तब भारत में सोने का अपार भंडार हो गया था । सबसे हैरान करनेवाली तब यह थी कि यह सोना सरकार के पास नहीं बल्कि जनता के पास हुआ करता था !
*भारत का इतिहास – हैरान करने वाली बातें*
🚩भारत की सभ्यता कुछ 8000 साल पुरानी है । इतनी पुरानी सभ्यता आजतक अपना वजूद बचाए हुए है । इसमें जरूर कुछ बात है ! सनातनी सभ्यता ने विश्व का मार्गदर्शन किया है । हमारे शास्त्रों से ही विश्व ने चलना सीखा है । भारत माता के वेद हजारों साल पुराने हैं और पूरे विश्व ने इन्हीं वेदों का अनुसरण किया है । विज्ञान हो या फिर ब्रह्माण्ड, तकनीक हो या फिर धर्म, सभी बातें आपको भारत माता के इतिहास में सबसे पहले मिल जायेंगी !
🚩विज्ञान की बात करें तो जहाज जैसी चीजें रामायण और महाभारत में मिलती हैं । परमाणु अस्त्र-शस्त्र भी आपको वेदों में मिलते हैं । परंतु निराशाजनक बात यह है कि किताबों में भारत माता को गरीब और अनपढ बताया गया है । भारत माता का झूठा इतिहास किताबों में लिखा गया है !
*भारत का इतिहास – वामपंथियों का झूठा इतिहास*
🚩भारत को वामपंथियों ने सांप और नट-जादूगरों का देश बताया है । परंतु असल में भारत माता का सच्चा इतिहास चाणक्य, मनु और कौटिल्य पर आधारित है । यहां सपेरों का इतिहास नहीं बल्कि मंगल, सूरज और चांद तारों की हैरान करनेवाली रहस्यमयी बातें बताई गयी हैं । भारत माता ने ‘शुन्य’ का आविष्कार किया है । सौर-ऊर्जा की बातें हजारों सालों पहले भारत में बताई गयी हैं ।
🚩असल में अब आवश्यकता है कि भारत माता के सच्चे इतिहास को फिर से एक किया जाये और हमारी आनेवाली पीढियों को पढाया जाये ताकि भारत एक बार फिर से विश्व का गुरु बन सके !
स्त्रोत : युसी न्यूज
🚩भारत अभी भी महान है लेकिन देश विरोधी ताकतों द्वारा इतने षडयंत्र किये जा रहे है कि जो हिन्दूत्व संस्कृति के लिए कार्य करते है उनको मीडिया द्वारा बदनाम करके जेल भेजा जाता है या हत्या करवा दी जाती है और हिन्दू भी इतने सेक्युलर बन गए है कि बिकाऊ मीडिया में आकर सही व्यक्ति को ही गलत बोलने लग जाते है जिससे वे सही कार्य नही कर पाते है क्यो की कोई भी बाहरी शक्तियों से तो लड़ लेगा लेकिन अंदर के सेक्यूलर और गद्दारों से लड़ना मुश्किल हो जाता है ।
🚩अतः हिन्दू एक बने रहे और  विधर्मी किसी भी हिन्दू संस्कृति, हिन्दू देवी-देवता और हिन्दू साधु-संतों के खिलाफ आलोचना करते है उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही करें जिससे अपनी महान संस्कृति टिकी रहे और फिर से भारत विश्वगुरु बनें।
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻
🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ

3 thoughts on “भारत हजारों साल पहले विश्वगुरु था पर वामपंथियों ने असली इतिहास छुपा दिया

  1. मीडिया और मिशनरियों का मकसद पैसों के लिए हिंदुओं और हिन्दू संतो की बदनामी करवाना।
    इसके लिए #BogusCaseOnHinduSaints लगवाकर हिन्दू धर्म की नींव कमजोर कर रही है।

  2. Sabhi hindu bhaiyo ko aage aana hoga
    Nahi to aane wla tym bahut dukhdayi ho jayega isliye jago hinduo

  3. परकीय आक्रमण की वजह से हमारी संस्कृति की बड़ी हानि हुई है।फिर भी भारत देश मे विश्व गुरु बनने का सामर्थ्य है।

Comments are closed.

Translate »